पोस्ट विवरण
User Profile

आम की पत्तियों पर जीवाणु जनित काला धब्बा रोग

सुने

आम के पेड़ में जीवाणु जनित काला धब्बा रोग देश के लगभग सभी क्षेत्रों में देखने को मिलता है। इस रोग को बैक्टीरियल लीफ ब्लाइट या जीवाणु पत्ती अंगमारी रोग के नाम से भी जाना जाता है। इससे उत्पादन में 5 से 30 प्रतिशत तक कमी आती है। इस रोग के कारण फलों की गुणवत्ता पर भी प्रतिकूल असर होता है। जीवाणु जनित काला धब्बा रोग के लक्षण एवं बचाव के उपाय यहां से देखें।

रोग का कारण

  • यह एक जीवाणु जनित रोग है।

  • हवा एवं बारिश के कारण यह रोग एक पेड़ से दूसरे पेड़ में फैलता है।

  • इसके अलावा कटाई-छंटाई के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले औजारों के माध्यम से भी यह रोग फैल सकता है।

  • वातावरण में अधिक आर्द्रता संक्रमण को बढ़ाने का काम करती है।

रोग का लक्षण

  • इस रोग से सबसे पहले पेड़ की पत्तियां प्रभावित होती हैं।

  • इसके अलावा फलों, टहनियों एवं शाखाओं पर भी रोग के लक्षण देखे जा सकते हैं।

  • रोग से प्रभावित पेड़ की पत्तियों पर भूरे एवं काले रंग के छोटे-छोटे धब्बे उभरने लगते हैं।

बचाव के उपाय

  • रोग को फैलने से रोकने के लिए संक्रमित पत्तियां, फल एवं शाखाओं को बगीचे से बाहर ले जाकर नष्ट कर दें।

  • कटाई-छंटाई के लिए प्रयोग किए जाने वाले उपकरणों की अच्छी तरह सफाई करें।

यह भी पढ़ें :

अगर आपको यह जानकारी महत्वपूर्ण लगी है तो इस पोस्ट को लाइक करें एवं अन्य मित्रों के साथ साझा भी करें। इससे जुड़े अपने सवाल हमसे कमेंट के माध्यम से पूछें।

Soumya Priyam

Dehaat Expert

32 लाइक्स

6 टिप्पणियाँ

12 November 2020

शेयर करें
banner
फसल चिकित्सक से मुफ़्त सलाह पाएँ

फसल चिकित्सक से मुफ़्त सलाह पाएँ