पोस्ट विवरण
User Profile

हीमोग्लोबिनुरिया / लाल पानी / लहु मूतना

सुने

पशु ब्याने के बाद हीमोग्लोबिनुरिया / लाल पानी / लहु मूतना

स्वस्थ एवं अधिक दूध देने वाली गायों एवं भैसों में हीमोग्लोबिनुरिया एक प्रमुख रोग है जिसे हाइपोफास्फेतिमिया भी कहते है । यह एक उपापचयी रोग है, जिसमें रक्त का हीमोग्लोबिन अधिक टूट जाने या नष्ट हो जाने से गुर्दे के रास्ते से मूत्र में आ जाता है। हीमोग्लोबिन के अधिक मात्रा में नुकसान से रक्ताल्पता हो जाती है । प्राय: यह दुधारू गायों एवं भैसों के बच्चा देने के बाद 2 से 4 सप्ताह के दौरान हो सकता है। भारत में यह रोग भैसों  में अधिक पाया जाता है, जिसे आम भाषा में "लहु मूतना" कहते है। इस रोग में ब्याने के बाद यकायक हीमोग्लोबिन की अत्याधिक कमी से समय पर उचित उपचार नहीं मिलने के कारण अधिकतर दुधारू पशुओं की मृत्यु  हो जाती है ।


Pramod

Dehaat Expert

45 लाइक्स

7 टिप्पणियाँ

20 January 2021

शेयर करें
banner
फसल चिकित्सक से मुफ़्त सलाह पाएँ

फसल चिकित्सक से मुफ़्त सलाह पाएँ