पोस्ट विवरण
User Profile

मिर्च : फलों के काले होने का कारण एवं नियंत्रण के सटीक उपाय

सुने

इन दिनों मिर्च की खेती वाले कई क्षेत्रों में मिर्च के फलों के काला होने की समस्या सामने आ रही है। फलों के काला होने के कारण की सही जानकारी नहीं होने के से इस समस्या से छुटकारा पाना किसानों के लिए कठिन होता जा रहा है। अगर आप भी कर रहे हैं मिर्च की खेती और फलों के काले पड़ने से हैं परेशान तो इस पोस्ट को ध्यान से पढ़ें। यहां से आप मिर्च के फलों के काला होने के कारण के साथ इस समस्या से छुटकारा पाने के तरीके भी जान सकते हैं। आइए इस विषय में विस्तार से जानकारी प्राप्त करें।

मिर्च के फलों का काला होने का कारण

  • मिर्च के पौधों में पाउडरी मिल्ड्यू रोग होने के कारण फल काले होने लगते हैं।

  • इस रोग के कारण पौधों की पत्तियों पर सफेद रंग के पदार्थ नजर आने लगते हैं।

  • इसके अलावा थ्रिप्स के प्रकोप के कारण भी यह समस्या उत्पन्न हो सकती है।

  • थ्रिप्स का प्रकोप होने पर पौधों की पत्तियां भी मुड़ने लगती हैं।

मिर्च के फलों को काला होने से बचाने के तरीके

  • पौधों को इस रोग से बचाने के लिए प्रति किलोग्राम बीज को 3 ग्राम कार्बेन्डाज़िम 50 डब्लू.पी से उपचारित करें।

  • पाउडरी मिल्ड्यू रोग पर नियंत्रण के लिए प्रति लीटर पानी में 2 ग्राम रिडोमिल गोल्ड मिला कर छिड़काव करें।

  • थ्रिप्स का प्रकोप होने पर प्रति एकड़ भूमि में 3 0 ग्राम बायर जम्प नामक दवा का छिड़काव करें।

  • इसके अलावा प्रति लीटर पानी में 2 मिलीलीटर की दर से अलांटो नामक दवा मिला कर छिड़काव करने से भी थ्रिप्स पर नियंत्रण किया जा सकता है। प्रति एकड़ खेत में 150 से 200 मिलीलीटर दवा का छिड़काव करें।

यह भी पढ़ें :

हमें उम्मीद है यह जानकारी आपके लिए महत्वपूर्ण साबित होगी। यदि आपको इस पोस्ट में दी गई जानकारी पसंद आई है तो इस पोस्ट को लाइक करें एवं इसे अन्य किसानों के साथ साझा भी करें। जिससे अधिक से अधिक किसानों तक यह जानकारी पहुंच सके। इससे जुड़े अपने सवाल हमसे कमेंट के माध्यम से पूछें। कृषि संबंधी अधिक जानकारियों के लिए जुड़े रहें देहात से।

Pramod

Dehaat Expert

6 लाइक्स

21 December 2021

शेयर करें
banner
फसल चिकित्सक से मुफ़्त सलाह पाएँ

फसल चिकित्सक से मुफ़्त सलाह पाएँ