पोस्ट विवरण
सुने
किसान समाचार
1 Apr
Follow

1 अप्रैल को किसानों को मिली बड़ी खुशखबरी! अब पहाड़ों पर भी हो सकेगी इस फसल की खेती

1 अप्रैल को किसानों को मिली बड़ी खुशखबरी! अब पहाड़ों पर भी हो सकेगी इस फसल की खेती

बिना प्रोसेसिंग के सीधे खाए जा सकने वाले सोयाबीन की खेती अब उत्तर भारत के पहाड़ों पर भी हो सकेगी। इंदौर के भारतीय सोयाबीन अनुसंधान संस्थान (IISR) के वैज्ञानिकों ने लम्बे अनुसंधान के बाद ऐसे सोयाबीन की पहली किस्म विकसित करने में कामयाबी हासिल की है। वैज्ञानिकों के अनुसार  प्रोटीन से भरपूर यह किस्म पहाड़ी क्षेत्रों में कुपोषण की समस्या से निपटने में मददगार साबित हो सकती है। सोयाबीन की इस किस्म का नाम ‘एनआरसी 197’ (NRC 197) रखा गया है।

30 Likes
Like
Comment
Share
फसल चिकित्सक से मुफ़्त सलाह पाएँ

फसल चिकित्सक से मुफ़्त सलाह पाएँ