पोस्ट विवरण
सुने
बागवानी फसलें
1 Jan
Follow

आम की बेहतर पैदावार के लिए जनवरी में करें ये काम

आम की बेहतर पैदावार के लिए जनवरी में करें ये काम

जनवरी महीने में देस के कई क्षेत्रों में आम के वृक्षों में मंजर आने शुरू हो जाते हैं। कई बार ऐसा होता है कि भरपूर मंजर आने के बावजूद भी अच्छी पैदावार नहीं होती और किसानों को उचित मुनाफा नहीं मिल पाता है। मीठे-रसीले आम के फल प्राप्त करने के लिए जनवरी महीने में कुछ महत्वपूर्ण बातों पर ध्यान देना बहुत जरूरी है।

आम की बेहतर पैदावार के लिए जनवरी महीने में करें ये काम

  • आम के बगान की साफ-सफाई करें। नीचे गिरी हुई पत्तियां, सूखी टहनियों, आदि की सफाई करें। ये कीटों के पनपने का कारण बन सकते हैं।
  • बाग में पनप रहे खरपतवारों को नष्ट करें।
  • मिट्टी में नमी की मात्रा बरकरार रखने के लिए बाग में सिंचाई करें।
  • मंजर में फल आने के बाद सिंचाई करें। फलों के विकास के समय भी सिंचाई करना जरूरी है।
  • बागों की स्थिति उत्पन्न न होने दें।
  • वृक्षों में मंजर आने के बाद कीटनाशक एवं फफूंदनाशक का प्रयोग न करें। कीटनाशक के छिड़काव से मंजर पर नमी होगी। जिससे परागण में समस्या आ सकती है।
  • आम के वृक्षों में चूर्णिल आसिता रोग पर नियंत्रण के लिए प्रति लीटर पानी में 2 ग्राम घुलनशील गंधक मिला कर छिड़काव करें।
  • मंजर आने के बाद बागों में मधुमक्खियों के बक्से रखें। इससे परागण अच्छी तरह होता है और वृक्षों में फल भी अधिक आते हैं।

आपने बाग में किस किस्म के आम के पौधे लगाएं हैं और प्रति पौधा कितनी पैदावार होती है? अपने बहुमूल्य जवाब हमें कमेंट के द्वारा बताएं। इस तरह की अधिक जानकारियों के लिए 'बागवानी फसलें' चैनल को तुरंत फॉलो करें। इसके साथ ही इस पोस्ट को लाइक और शेयर करना न भूलें।

51 Likes
Like
Comment
Share
फसल चिकित्सक से मुफ़्त सलाह पाएँ

फसल चिकित्सक से मुफ़्त सलाह पाएँ