पोस्ट विवरण
सुने
किसान समाचार
5 Dec
Follow

किसानों को पसंद आ रहा ये थ्रेशर... एक घंटे में हो रहा 24 घंटे का काम! धान कूटने में बच रहा समय

किसानों को पसंद आ रहा ये थ्रेशर... एक घंटे में हो रहा 24 घंटे का काम! धान कूटने में बच रहा समय

धान की कटाई के बाद अनाज को पौधे से अलग करने के लिए फसल को बंडल बनाकर उसकी पिटाई की जाती है। इस प्रक्रिया में काफी समय लगता है, जिसको बचाने के लिए बाजार में इन दोनों एक नई मशीन आई है। दावा किया जा रहा कि यह मशीन एक दिन में एक हज़ार बंडल धान कूट देगी। वहीं, इस थ्रेसर मशीन से उतने ही समय में पांच हजार बंडल धान कूटा जा सकेगा। झारखंड के गोड्डा में इस बार चार प्रकार की मशीन आई है। जिसमें पैर से चलने वाली मशीन एवं मोटर वाली मशीन भी शामिल है।

44 Likes
1 Comment
Like
Comment
Share
फसल चिकित्सक से मुफ़्त सलाह पाएँ

फसल चिकित्सक से मुफ़्त सलाह पाएँ