पोस्ट विवरण
सुने
योजनाएं
किसान योजना
9 Mar
Follow

प्रधानमंत्री किसान उत्पादक संगठन योजना: लाभ एवं आवेदन की प्रक्रिया | Prime Minister Farmer Producer Organization Scheme: Benefits and Application Process

प्रधानमंत्री किसान उत्पादक संगठन योजना: लाभ एवं आवेदन की प्रक्रिया | Prime Minister Farmer Producer Organization Scheme: Benefits and Application Process

प्रधानमंत्री किसान उत्पादक संगठन योजना भारत में एक सरकारी पहल है जिसका उद्देश्य छोटे और सीमांत किसानों की आय में सुधार के लिए किसान उत्पादक संगठनों (एफपीओ) के गठन को बढ़ावा देना है। यह योजना क्षमता निर्माण, बाजार लिंकेज और बुनियादी ढांचे के विकास जैसी गतिविधियों के लिए एफपीओ को वित्तीय सहायता प्रदान करती है। इस योजना का उद्देश्य सामूहिक कार्रवाई के माध्यम से किसानों को सशक्त बनाकर एक स्थायी और कुशल कृषि मूल्य श्रृंखला बनाना है। आज के इस पोस्ट के माध्यम सर इस योजना के लाभ एवं आवेदन की प्रक्रिया की विस्तृत जानकारी प्राप्त करें।

प्रधानमंत्री किसान उत्पादक संगठन योजना का मुख्य उद्देश्य | Main Objectives of the Prime Minister Farmer Producer Organization Scheme

  • इस योजना के जरिए किसान उत्पादक संगठनों  को केन्द्र सरकार 15 लाख रूपए तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।
  • इस योजना की शुरुआत कृषि सेक्टर को आगे बढ़ाने के उद्देश्य से की गई है।
  • यह योजना किसानों के हित में कार्य करते हुए किसानों की आय में वृद्धि में सहायक है।

प्रधानमंत्री किसान उत्पादक संगठन योजना की विशेषताएं | Features of Prime Minister Farmer Producer Organization Scheme

  • इस योजना के माध्यम से किसानों को तकनीकी, मार्केटिंग, ऋण, प्रोसेसिंग, सिंचाई आदि जैसी सुविधाएं प्रदान की जाती हैं।
  • इस योजना के माध्यम से बीज, खाद, मशीनरी, मार्केट लिंकेज, ट्रेनिंग, नेटवर्किंग, वित्तीय सहायता आदि जैसी सुविधाएं भी प्रदान की जाती हैं।
  • पीएम किसान एफपीओ योजना के अंतर्गत देश में 10,000 किसान उत्पादक संगठन बनाए जाएंगे।
  • देश में कृषि का विस्तार होगा और किसानों की आर्थिक स्थिति बेहतर होगी।
  • उपज को उत्पाद में बदल कर बेचने से किसानों को अच्छे दाम मिलेंगे।
  • यह योजना उन किसानों के लिए आरंभ की गई है जिनके पास 1 हेक्टेयर या उससे कम कृषि भूमि है।
  • किसान उत्पादक संगठन योजना से मिलने वाली राशि पर किसी भी प्रकार का ब्याज नहीं लिया जाएगा।

प्रधानमंत्री किसान उत्पादक संगठन योजना की शर्तें | Terms and Conditions of Prime Minister Farmer Producer Organization Scheme

  • इस योजना के लिए केवल किसान ही आवेदन कर सकते हैं।
  • यह योजना केवल भारतीय स्थाई नागरिकों (किसानों) के लिए है।
  • शहरी क्षेत्र में एक एफपीओ में कम से कम 300 सदस्य होने चाहिए।
  • पहाड़ी क्षेत्र में एक संगठन में कम से कम 100 सदस्य होने चाहिए।
  • आवेदन कर्ता के पास स्वयं की कृषि योग्य भूमि होनी अनिवार्य है, इसके साथ उसे समूह का हिस्सा होना भी आवश्यक है।
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए आपकी आयु 18 वर्षा या इससे अधिक होनी चाहिए।

प्रधानमंत्री किसान उत्पादक संगठन योजना के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज |Important Documents Required for Prime Minister Farmer Producer Organization Scheme

इस योजना का लाभ उठाने के लिए आपके पास नीचे दिए दस्तावजों का होना आवश्यक है।

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जमीन के कागजात
  • राशन कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता विवरण
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

प्रधानमंत्री किसान उत्पादक संगठन योजना के लिए आवेदन की प्रक्रिया | Process of Application: Prime Minister Farmer Producer Organization Scheme

  • आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको लघु कृषक कृषि व्यापर संघ की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आप इस पोस्ट के नीचे दिए गए लिंक के माध्यम से भी राष्ट्रीय कृषि बाजार की आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते हैं।
  • लिंक पर क्लिक करते ही आपके सामने होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको 'एफपीओ' के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको 'रजिस्ट्रेशन' के विकल्प पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने एक फार्म खुलेगा। इसमें मांगी जाने वाली सभी जानकारियों को भरें।
  • इसके आवश्यक दस्तावेजों को स्कैन करके अपलोड करें।
  • दस्तावेजों को अपलोड करने के बाद 'सबमिट' के विकल्प पर क्लिक करें।
  • इस तरह आपकी आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

क्या आपने कभी किसान उत्पादक संगठन योजना (किसान एफपीओ) का लाभ उठाया है? अपने जवाब एवं अनुभव हमें कमेंट के माध्यम से बताएं। किसानों के हित में चलाई जा रही सरकारी योजनाओं की अधिक जानकारी के लिए 'किसान योजना' चैनल को फॉलो करें। इसके साथ ही इस जानकारी को अन्य किसानों तक पहुंचाने के लिए इस पोस्ट को लाइक और शेयर करना न भूलें।

लघु कृषक कृषि व्यापर संघ की आधिकारिक वेबसाइट: sfacindia.com/Nam.aspx

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल |

Q: FPO में कितने सदस्य होने चाहिए?

A: किसान उत्पादक संगठन (FPO) योजना के लिए एक समूह बनाने और FPO के रूप में पंजीकरण करने के लिए न्यूनतम 10 सदस्यों की आवश्यकता होती है। हालांकि, एफपीओ में सदस्यों की अधिकतम संख्या 2,000 तय की गई है।

Q: FPO के लिए आवेदन कैसे करें?

A: किसान उत्पादक संगठन योजना के लिए आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए आपको राष्ट्रीय कृषि बाजार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके अलावा, किसान चाहें तो अपने नजदीकी ई-नाम मंडी जाकर भी रिजस्ट्रेशन करा सकते हैं।

Q: FPO का उद्देश्य क्या है?

A: भारत में किसान उत्पादक संगठन (FPO) योजना का उद्देश्य किसानों द्वारा FPO के गठन को बढ़ावा देना और समर्थन करना है, जिसका उद्देश्य किसानों की बाजार पहुंच में सुधार करते हुए उनकी आय में बढ़ोतरी करना है। यह योजना एफपीओ को वित्तीय सहायता और क्षमता निर्माण सहायता प्रदान करती है, जो उन्हें सामूहिक खेती, एकत्रीकरण, प्रसंस्करण और कृषि उपज के विपणन में मदद कर सकती है। एफपीओ योजना का उद्देश्य कृषि मूल्य श्रृंखला को मजबूत करना और स्थायी कृषि प्रथाओं को बढ़ावा देना है।

Q: FPO हमारे देश के किसानों के लिए कैसे फायदेमंद हो सकता है?

A: किसान उत्पादक संगठन (एफपीओ) योजना भारत में किसानों के लिए कई मायनों में अत्यधिक फायदेमंद हो सकती है। सबसे पहला, यह किसानों को एक साथ आने और एक सामूहिक इकाई बनाने में मदद कर सकता है जो उनकी उपज के लिए बेहतर कीमतों पर बातचीत कर सकता है, जिससे उनकी आय में सुधार हो सकता है। दूसरा, एफपीओ किसानों को बेहतर इनपुट, प्रौद्योगिकी और ऋण सुविधाओं तक पहुंच प्रदान कर सकते हैं, जो उनकी उत्पादकता में सुधार करने और लागत कम करने में मदद कर सकते हैं। तीसरा, एफपीओ किसानों को उनकी उपज के मूल्य संवर्धन और प्रसंस्करण में मदद कर सकते हैं, जिससे उनकी लाभप्रदता बढ़ सकती है। चौथा, FPOs कटाई के बाद के नुकसान को कम करने और उपज की गुणवत्ता में सुधार करने में मदद कर सकते हैं, जिससे विपणन क्षमता बढ़ सकती है। अंत में, एफपीओ स्थायी कृषि प्रथाओं को बढ़ावा देने में मदद कर सकते हैं और किसानों को अपनी चिंताओं को व्यक्त करने और उनकी शिकायतों के निवारण के लिए एक मंच प्रदान कर सकते हैं।

65 Likes
1 Comment
Like
Comment
Share
फसल चिकित्सक से मुफ़्त सलाह पाएँ

फसल चिकित्सक से मुफ़्त सलाह पाएँ