पोस्ट विवरण
सुने
उर्वरक
प्याज
कृषि ज्ञान
23 Dec
Follow

प्याज: इस छिडकाव से बढ़ेगा कंदों का आकार

प्याज: इस छिडकाव से बढ़ेगा कंदों का आकार

प्याज के कंदों का आकार जितना बड़ा होगा, पैदावार भी उतनी ही ज्यादा मिलती है। कंदों के आकार को बढ़ाने के लिए कई बातों को ध्यान में रखना आवश्यक है। खेत में मौजूद खरपतवार पोषक तत्वों को ग्रहण कर लेते हैं जिससे कंदों का आकार छोटा हो सकता है। मिट्टी का अधिक क्षारीय और अम्लीय होना कंदो के विकास में बाधा बनता है। बहुत अधिक ठंडी जलवायु के कारण भी प्याज में कंद नहीं बन पाते या छोटे रह जाते हैं। इसके अलावा मिट्टी में पोषण की कमी से कंद का विकास नहीं हो पाता है। पौधों एवं कंदों के बेहतर विकास के लिए बुवाई के 75 दिनों बाद प्रति एकड़ खेत में 1 किलोग्राम देहात न्यूट्रीवन एमकेपी 00.52.34 + 200 ग्राम चेलेटेड कैल्शियम बोरॉन का छिड़काव करें। बुवाई के 90 दिनों बाद प्रति एकड़ खेत में 1 किलोग्राम देहात न्यूट्रीवन एमकेपी 00.52.34 + 200 ग्राम मिक्स माइक्रो न्यूट्रिएंट का छिड़काव करें।

प्याज की खेती से आपको कितना मुनाफा प्राप्त होता है? अपने जवाब हमें कमेंट के माध्यम से बताएं। अगर आप चाहते हैं इस तरह की अधिक जानकारियां तो 'कृषि ज्ञान' चैनल को तुरंत फॉलो करें। इसके साथ ही इस पोस्ट को लाइक और शेयर करना न भूलें।

33 Likes
Like
Comment
Share
फसल चिकित्सक से मुफ़्त सलाह पाएँ

फसल चिकित्सक से मुफ़्त सलाह पाएँ